jk: श्रीनगर मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने 3 आतंकी को मार गिराया, दो जवान भी घायल

जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में गुरुवार को आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ हो गई। गुरुवार तड़के श्रीनगर के बाटामालू इलाके में एनकाउंटर के दौरान सुरक्षाबलों ने तीन आतंकवादियों को मार गिराया। हालांकि, इस दौरान दो जवान घायल हो गए और एक महिला की मौत हो गई।

जम्मू: 

 

जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में गुरुवार को आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ हो गई। गुरुवार तड़के श्रीनगर के बाटामालू इलाके में एनकाउंटर के दौरान सुरक्षाबलों ने तीन आतंकवादियों को मार गिराया। हालांकि, इस दौरान दो जवान घायल हो गए और एक महिला की मौत हो गई। पुलिस और सीआरपीएफ के जवान मोर्चे पर हैं। फिलहाल, आतंकियों की पहचान नहीं हो पाई है कि वे किस आतंकी संगठन से जुड़े थे। 

अधिकारियों ने कहा कि बाटामालू के फिरदौशाबाद इलाके में आतंकियों के छिपे होने की सूचना पर सुरक्षाबलों ने रात करीब 2.30 बजे सर्च ऑपरेशन चलाया। आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी की जिसके बाद तलाश अभियान मुठभेड़ में तब्दील हो गया। इसके बाद आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी शुरू कर दी, जिसके जवाब में भारतीय सेना ने भी गोलीबारी की। 

अधिकारी के मुताबिक, इस मुठभेड़ में जिस एक महिला की मौत हुई, उसकी पहचान कौंसर रियाज के रूप में हुई है। इसके अलावा, दो सीआरपीएफ के जवान भी घायल हुए हैं। इन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। फिलहाल, एनकाउंटर जारी है। 

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग